पूर्वी उत्तरप्रदेश में मानसून अपने चरम पर, शहरों में जलभराव तो गांवों में धान की रोपाई

0
94
Advertisement

गोरखपुर। पूर्वी उत्तरप्रदेश में मानसून अपने चरम पर है। गोरखपुर में सुबह से शुरू हुई हल्की बूंदाबांदी 9 बजते बजते मूसलाधार बारिश में बदल गयी। पिछले एक घण्टे से हो रही मूसलाधार बारिश ने शहर में जगह जगह जलभराव की स्थिति पैदा कर दी है। घंटाघर, अलीनगर, बक्शीपुर, रेती रोड, सुमेरसागर, बैंक रोड, रुस्तमपुर आदि जगहों पर जलभराव से लोग घरों में कैद होने लगे हैं।

वहीं दूसरे तरफ ग्रमीण क्षेत्रों में किसानों ने धान की रोपाई तेज़ कर दी है। लॉकडाउन में ज्यादार प्रवासी वर्कर्स अपने गांव लौट आये हैं ऐसे में किसानी के कामों में काफी तेजी देखने को मिल रही है। बारिश ने उनका काम आसान कर दिया है। बिना सिंचाई के ही किसानों को धान की रोपाई से हज़ारों का फायदा हुआ है।

वहीं अगर बात करें मौसम विभाग की तो उसने पहले ही 3 दिनों के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की थी। हालांकि 30 जून के बाद धीरे धीरे मौसम साफ होने का अनुमान है। फिर एक हफ्ते बाद तेज़ बारिश की सूचना जारी की है। इस एक हफ्ते में भी हल्की फुल्की बारिश हो सकती है।

Advertisement