देवेंद्र प्रताप को एमएड में सर्वोच्च अंक हासिल करने पर मिला गोल्ड मेडल

1236

पडरौना। शहर के इंदिरा नगर निवासी देवेंद्र प्रताप सिंह को एमएड में सर्वोच्च अंक लाने पर 42वें दीक्षांत समारोह में गोरखपुर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. पूनम टंडन ने गोल्ड मेडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है।

Advertisement

देवेंद्र ने पडरौना के उदित नारायण पीजी कॉलेज से ही बीएससी किया है। उनके इस उपलब्धि पर परिजनों समेत शहर के लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की है।

शहर के इंदिरा नगर निवासी स्व. ध्रुव प्रताप सिंह की एक पुत्री व तीन पुत्र हैं। इसमें सबसे बड़े देवेंद्र प्रताप सिंह हैं। देवेंद्र ने वर्ष 2007 में राजकुमार उच्चतर माध्यमिक विद्यालय से प्रथम श्रेणी से हाईस्कूल, वर्ष 2009 में प्रथम श्रेणी से इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण की।

उदित नारायण पीजी कॉलेज से बीएससी की पढ़ाई पूरी करने के बाद वह गोरखपुर के दीनदयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय से प्रथम श्रेणी में एमएससी व बीएड को उत्तीर्ण किया।

एमएड में उन्होंने प्रथम श्रेणी में सर्वोच्च अंक हासिल किया है। यूजीसी नेट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद वह मौजूदा समय में लखनऊ विश्वविद्यालय से पीएचडी कर रहे हैं। एमएड में सर्वोच्च अंक हासिल करने के बाद कुलपति प्रो. पूनम टंडन ने गोल्ड मेडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है।

उनके इस उपलब्धि पर देवेंद्र के छोटे भाई प्रिन्स प्रताप सिंह, शमसेर मल्ल, उदयवीर सिंह, अरविंद गुप्ता, विशाल राव, प्रदीप मोदनवाल, सौरभ जायसवाल, घनश्याम मोदनवाल, कृष्णा सिंह पटेल, अशोक चौधरी, सुरेन्द्र पटेल, सत्यम सिंह, आदित्य, अभिषेक आदि ने प्रसन्नता व्यक्त की है।