आज रात सबसे बड़ा और चमकदार चांद होगा पृथ्वी के सबसे करीब, आप भी देखिएगा

642

आज रात साल का सबसे बड़ा और चमकदार चांद आसमान में दिखाई देगा. खगोलविदों के अनुसार, सुपरमून को देखने का इससे शानदार मौका 2020 में दोबारा नहीं मिलेगा. इस दौरान चंद्रमा और पृथ्वी के बीच की दूरी सबसे कम होगी. आइए आपको इस सूपरमून से जुड़ी कुछ खास बातें बताते हैं और ये भी बताते हैं कि भारत में आप ये सुपरमून कब देख सकेंगे.

Advertisement

पृथ्वी से चंद्रमा की सामान्य दूरी 384400 किलोमीटर होती है. जबकि दोनों के बीच की अधिकांश दूरी 405696 किमी हो सकती है. आज सुपरमून के वक्त पृथ्वी और चंद्रमा के बीच फासला घटकर 356900 किलोमीटर रह जाएगा.

सुपरमून शब्द का पहली बार इस्तेमाल एस्ट्रोनॉमर्स रिचर्ड नॉल ने साल 1979 में किया था. एस्ट्रोनॉमर्स ने इसे ‘पेरीजीन फुल मून’ नाम दिया था. उन्होंने ये भी बताया था कि सुपरमून के दौरान चंद्रमा नजदीक होने की वजह से पृथ्वी से उसका तकरीबन 90 प्रतिशत हिस्सा नजर आता है.