गोरखपुर के इस लाल ने चंद मिनटों में पहलवान दारा सिंह को दी थी पटखनी..

0
1046

वैसे तो अपना शहर गोरखपुर पूरे विश्व में अलग अलग क्षेत्र में नाम रोशन कर ही चुका है चाहे वो पढ़ाई हो, खेल कूद हो या कुछ और.. गोरखपुर के तमाम बेटों बेटियों ने अपने टैलेंट से पूरे विश्व में गोरखपुर का नाम रोशन किया है। पर आज हम आपको जिसके बारे में बताने जा रहे हैं उसके बारे में आप शायद जानते तो होंगे पर वो नहीं जानते होंगे जो हम आपको आज बताने जा रहे हैं। गोरखपुर की धरती ने तमाम वीरों को जन्म दिया उसमें से एक नाम है स्वर्गीय ब्रह्मदेव मिश्रा का.. वही ब्रह्मदेव मिश्रा जिसने पहलवानी के क्षेत्र में बड़ो बड़ो को धूल चटाई है।

Advertisement

वही ब्रह्मदेव मिश्रा जिसका नाम देश के जाने माने पहलवान दारा सिंह ने अपने इंटरव्यू में लिया। एक चैनल को इंटरव्यू देते हुए दारा सिंह ने बताया था कि 1950 में जब वो 21 साल के थे तो पहलवानी लड़ने कोलकाता गए थे जहां अखाड़े में उनका सामना गोरखपुर के पहलवान ब्रह्मदेव मिश्रा से हुई थी। उन्होंने बताया कि ना जाने ब्रह्मदेव मिश्रा ने ऐसी कौन सी दांव खेला जिसको मैं समझ ही नहीं पाया और ब्रह्मदेव ने चंद मिनटों में ही मुझे धूल चटा दी। ब्रमदेव मिश्रा बहुत ही नामी पहलवान थे जिन्होंने भारत के ही नहीं बल्कि विदेशों के भी कई पहलवानों को मात दी।

यहां तक कि सिंगापुर, अमेरिका,और विश्वस्तर तक लड़े और कभी पराजित नहीं हुए। आज उन्ही के खानदान के चन्द्र प्रकाश मिश्रा उर्फ गामा मिश्रा ने भी पहलवानी के क्षेत्र में भारत केशरी बने और नाम रोशन किया। आज भी गोरखपुर क्षेत्र में पहलवान ब्रह्मदेव मिश्रा का नाम चलता है।

Advertisement

लेकिन 1950 के दशक में टेलीविजन का इतना प्रभाव न होने के कारण इतनी बड़ी खबर सिर्फ अखबार की सुर्खी ही बन के रह गयी और एक ऐसा योद्धा जिसे सिर्फ गोरखपुर तक ही पहचान मिल सकी आज भी खजनी में इनके नाम का अखाड़ा चलता है। आज भी इस अखाड़े से कई पहलवान पूरे देश में अपना लोहा मनवा रहे हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement