गोरखपुर के राजल ने रचा इतिहास, “राजल नीति” का बनाया विश्व रिकॉर्ड

280

गोरखपुर। युवा लेखक राजल की बेस्ट सेलर पुस्तक राजल नीति टाइम मैनेजमेंट ने इतिहास रच दिया है। टाइम मैनेजमेंट विषय पर अब तक किसी भी भारतीय लेखक का इतनी भाषाओँ में अनुवाद नहीं हुआ जितना की राजल की पुस्तक राजल नीति टाइम मैनेजमेंट का हुआ और इस शानदार रिकॉर्ड को ओएमजी बुक ऑफ़ रिकॉर्ड ने अपनी पुस्तक में शामिल करते हुए राजल को इस रिकॉर्ड के प्रमाण पत्र से सम्मानित किया।

Advertisement

गोरखपुर निवासी राजल की यह बेस्ट सेलर पुस्तक हिंदी,अंग्रेजी,बांग्ला,मराठी,गुजराती और ओड़िया भाषा में उपलब्ध है और इसका अन्य भाषाओं में भी अनुवाद हो रहा है
इस पुस्तक का विमोचन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया था और तत्कालीन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इसे शुभकामनाएं भी दी थी।

इस पुस्तक का उद्देश्य युवाओं को समय का बेहतर प्रबंधन करना सीखना है और समय के बेहतर प्रबंधन के कारण ही राजल ने ९ डिग्री सर्टिफिकेट प्राप्त किये जिनमे एल एल बी,जर्नलिज्म,पी जी डी बी ए,बी लेवल जैसी ४ प्रोफेशनल डिग्रियां भी शामिल हैं।
राजल ने इस अवसर पर किताब के सभी पाठकों का आभार व्यक्त किया और इस सफलता को अपनी जन्मभूमि गोरखपुर को समर्पित किया।