एक तरफा प्यार में बाधा बन रहे भाई को सनकी प्रेमी ने मार डाला

370

गोरखपुर। एक सनकी प्रेमी ने एक तरफा प्यार के लिए अपनी प्रेमिका के भई की निर्ममता से जान लेली। एक भाई को बहन की आबरू बचाने के चक्कर में जान गंवानी पड़ी है। बहन को रोज घुटते देखना बर्दाश्त नहीं हुआ और बात करने के लिए आरोपी के पास पहुंच गया। आरोपी ने उसकी जान ले ली।

Advertisement

उधर, आरोपी को इसका तनिक भी पछतावा नहीं। पुलिस ने जब उससे पूछताछ की तो अकड़ के साथ जुर्म कबूल किया। बताया कि प्रेम में बाधा बन रहा था इस वजह से हत्या कर दी। जबकि प्रेम पूरी तरह से एक तरफा था।

मामला गोरखपुर जिले के सिंकरीगंज थाने के बर्रोही गांव का है। यहां पानी से भरे खेत में रविवार तड़के हत्या कर फेंके गए एक युवक की लाश मिली थी।

युवक के गले को धारदार हथियार से रेता गया था और उसके नाजुक अंग को काट दिया गया था। युवक का शव मिलने के बाद पुलिस को आशनाई में हत्या की आशंका लग रही थी।

जिस तरह से हत्या के बाद युवक के नाजुक अंग को काट दिया गया था, उससे भी यही लग रहा था। मगर हुआ इसके उलट।

दरअसल, पूरे प्रकरण में जो दरिंदा बना है वह एकतरफा प्यार में पागल था। उसने ऐसा क्यों किया इस सवाल पर चुप्पी साधे है।

पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा मोबाइल फोन की मदद से किया है। पुलिस ने शक की बिना पर दीपेंद्र को उठाया और उसके मोबाइल फोन की कॉल डिटेल निकलवाई तो पूरा मामला सामने आ गया।

हत्या के बाद घरवालों ने ग्रामीणों की मदद से मुख्य चौराहे पर शव रखकर जाम लगा दिया। उनकी मांग थी कि 50 लाख रुपये मुआवजा के साथ सरकारी नौकरी दी जाए।

एसएसपी के समझाने पर और एसडीएम खजनी के प्रार्थनापत्र लेने के बाद ग्रामीण सड़क से हटे। इस बीच करीब चार घंटे तक आवागमन प्रभावित रहा।