World Mental Health Day : स्वस्थ जीवन के लिए शारीरिक और मानसिक हेल्थ दोनों जरूरी

309

गोरखपुर। DAVPG काॅलेज, गोरखपुर मे आज वल्ड मेंटल हेल्थ डे के अवसर पर वर्तमान परिदृश्य में मानसिक स्वास्थ्य के महत्व पर प्रकाश डालने और छात्र/छात्राओं को मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए एक व्याख्यान का आयोजन किया गया।

Advertisement

इस अवसर पर डाॅ0 अंकिता सिंह, क्लीनिकल साइकोलोजिस्ट, डेविस न्यूरोसाइकेट्रिस्ट, रांची मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित की गयी थी। कार्यक्रम का शुभारम्भ प्राचार्य एवं मुख्य अतिथि द्वारा दीप प्रज्वलित करके किया गया। महाविद्यालय की प्राचार्या प्रो0 शैल पांडे ने अपने उद्बोधन में कहा कि शरीर के संतुलित विकास के लिये शारीरिक स्वास्थ्य एवं मानसिक स्वास्थ्य के बीच में सामन्जस्य अनिवार्य है।

विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए डाॅ0 अंकिता सिंह मानसिक स्वास्थ्य के अर्थ व महत्व पर प्रकाश डालते हुए मानसिक स्वास्थ्य से सम्बन्धित विभिन्न प्रकार के मानसिक बीमारियों और उनके लक्षणों पर चर्चा किया। इसके अतिरिक्त उन्होंने मानसिक बीमारियाँ व्यक्ति के जीवन के विभिन्न पहलुओं को किस तरह प्रभावित करती है और मानसिक बीमारियों के क्या-क्या कारण हो सकते है तथा इन मानसिक बीमारियों का निदान कैसे होता है, के बारे में भी छात्र/छात्राओं को जागरूक किया। विभिन्न प्रकार के मनोवैज्ञानिक थेरेपी का उपयोग करके मानसिक बीमारियों का उचित इलाज सम्भव है, जरूरत है मानसिक बीमारियों से सम्बन्धित स्टिग्मा से बचने की।

मानसिक स्वास्थ्य दिवस के आयोजन का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य मानसिक बीमारियों के सम्बन्धित स्टिग्मा से लोगो को बचाना है, जिससे समाज में लोग मानसिक बीमारियों का सही समय पर इलाज करा सके। जिससे लोगो का मानसिक स्वास्थ्य अच्छा होगा और इसका सकारात्मक परिणाम समाज के विकास में देखने को मिलेगा।

कार्यक्रम के अंत में छात्र/छात्राओं द्वारा मानसिक स्वास्थ्य पर विभिन्न पोस्टर, माॅडल प्रदर्शनी का आयोजन किया। इसका मूल्यांकन पवित्रा डिग्री काॅलेज, मानीराम के मनोविज्ञान विभाग के असिस्टेन्ट प्रोफेसर श्री अंशुल गिरधर ने किया।

इस प्रदर्शनी में सचिन, सुमन, रोहणी अग्रहरी, शिजा फातिमा, खुशबू गुप्ता, स्नेहा वर्मा के प्रयास सराहनीय रहे। कार्यक्रम का संचालन डाॅ0 विनोद कुमार गुप्ता व अभार ज्ञापन डाॅ0 बिमलेश कुमार ने किया। इस कार्यक्रम मंे डाॅ0 संजय कुमार पाण्डेय, डाॅ0 प्रमोद कुमार त्रिपाठी, डाॅ0 संजय मिश्रा, डाॅ0 पंकज तिवारी, श्री चन्द्रसेन, श्री प्रेमचन्द सहित मनोविज्ञान विभाग के सभी छात्र/छात्रा उपस्थित रहें।