कामयाबी: 100 करोड़ की ठगी करने वाले गैंग को बस्ती पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
103

दिलीप पांडेय, बस्ती। सालों पहले बस्ती के लोगों से करोड़ो रुपए लूटकर फरार हुए शातिर अपराधियों को आज बस्ती पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

Advertisement

सदर कोतवाली के कचहरी चौराहे से दो शातिर नटवरलाल को पुलिस ने अरेस्ट किया है। इन के ऊपर 25-25 हज़ार का इनाम घोषित था।

2016 नें बस्ती जिले के सैकड़ों लोगों को 15 से 16 करोड़ का चूना लगा कर फरार हो गए थे।

Advertisement
वेस्ट बंगाल के का है गैंग

पकड़े गए दोनों जालसाज विकास हवलदार और तनमय मित्रा पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं।

आप को बता दे इनके खिलाफ बस्ती सदर कोतवाली में 2016 में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज हुआ था।

कुछ ऐसे बनाया सबको बेवकूफ

जालसाजों के इस गैंग ने कोलकता में प्रोग्रेस प्रोड्यूसर कल्टीवेशन लिमिटिड नाम की कंपनी खोली। पूरे देश ने इस कि ब्रांच आफिस खोल कर लोगों को लोभ लुभावनी स्कीम का लालच देकर पैसा इन्वेस्ट कराया था।

Advertisement

बस्ती जिले में 3 आफिस खोल कर सैकड़ों लोगों को अपनी जाल में फंसा कर 16 करोड़ इन्वेस्ट करा लिया। लेकिन जब पैसा रिटर्न करने का समय आया तो कंपनी की आफिस को बंद कर फरार हो गयी।

इस तरह से देश के कई राज्यों में लोगों के साथ धोखाधड़ी कर कंपनी में जो इन्वेस्ट कराया उस पैसे को लोगों को रिटर्न देने की बजाय 100 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति खरीद ली।

कोलकाता में 87 करोड़ रुपए प्रोग्रेस प्रोड्यूसर कल्टीवेशन लिमिटिड नाम की कंपनी में लगा दिया।

Advertisement

कंपनी के नाम से कोलकाता में 10 करोड़ में 13 बीघा जमीन खरीद ली। यूपी के अम्बेडकर नगर में 2.5 करोड़ कीमर की 8 बीघा जमीन, इस के अलावा कोलकाता में 50 लाख की बेकरी की फैक्ट्री खोल दी।

जब कंपनी ने लोगों का पैसा नहीं लौटाया तो सेवी ने कंपनी को सीज कर दिया, जिसके बाद से ये नटवरलाल फरार चल रहे थे।

बहरहाल अब ये नटवरलाल सलाखों के पीछे पहुंच गए है, लोगों को अपने मेहनत की कमाई वापस मिलने की उम्मीद जगी है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement