फर्जी अफवाह पर दूल्हे-दुल्हन को मंडप से उठा ले गई पुलिस

0
140

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश में ‘लव जिहाद’ (Love Jihad) पर कानून बनने के साथ ही इसके दुरुपयोग का भी मामला सामने आ गया है। दरअसल, मंगलवार को कुशीनगर में एक लड़का-लड़की को पुलिसवालों ने पूरी रात थाने में बिठाकर रखा।

Advertisement


कुशीनगर पुलिस ने मंगलवार को एक शादी रूकवा दी। किसी ने फोन करके बताया कि एक मुस्लिम लड़का, हिंदू लड़की का धर्म परिवर्तन कराकर शादी कर रहा है। इस खबर के मिलने के बाद कसया पुलिस, युवक के गांव पहुंची और दोनों को मंडप से ही हिरासत में लेकर थाने ले आई, जहां उनसे पूछताछ की गई।


जानकारी के मुताबिक, पुलिस को फोन पर सूचना मिली थी कि कसया थाना इलाके में ‘लव जिहाद’ के तहत शादी हो रही है और लड़की का धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है। सूचना पर पुलिस की टीम शादी में पहुंची और लड़का-लड़की को थाने ले गई।

Advertisement

बताया जा रहा है कि पुलिस ने इस दौरान 39 साल के हैदर को बुरी तरह से पीटा भी। पुलिसवालों ने दूल्हा और दुल्हन को कई घंटों तक थाने में प्रताड़ित किया।


वहीं कसया पुलिस को पूछताछ में पता चला कि दोनों मुस्लिम हैं और बालिग हैं। दोनों आपसी रजामंदी से शादी कर रहे हैं। कसया पुलिस स्टेशन के एसएचओ संजय कुमार ने लव जिहाद की अफवाह फैलाई गई थी।


वहीं इस घटना पर पुलिस का कहना है कि हमें जैसे ही धर्म परिवर्तन कर शादी किए जाने की सूचना मिली तो हमने तुरंत कार्रवाई, क्योंकि वैसे ही माहौल प्रदेश में तनावपूर्ण है, हम किसी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं चाहते थे, इसलिए हमने कपल को सबसे पहले हिरासत में लिया।

Advertisement


पुलिस ने कपल के साथ मारपीट की बात को झुठलाया है। संजय कुमार ने बताया कि इस पूरी घटना के लिए वो शरारती तत्व दोषी हैं, जिन्होंने ‘लव जिहाद’ की अफवाह फैलाई और हम उनकी तलाश कर रहे हैं, पकड़े जाने पर दोषियों को सजा दी जाएगी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement