गर्मी का मौसम शुरू होते ही आग का आतंक, देवरिया में सैकड़ों एकड़ फसल जल कर खाक

0
76

देवरिया एकौना क्षेत्र में राप्ती और गोर्रा के बीच बसे दोआबा में लगी अआग ने सैकड़ों एकड़ जल कर खाक कर दिया। फसल ने भूसा बनाने वाली मशीन से निकली चिंगारी ने गुरुवार को ताण्डव मचा दिया। देखते ही देखते चार गांवों में आग फैल गई और करीब पांच सौ एकड़ गेहूं की फसल जल कर राख हो गई। आग की चपेट में आकर जलती फसलों को देख किसानों में हाहाकार मच गया।

Advertisement

चार घण्टे तक तेज पछुआ हवा के चलते आग लगातार फैलती रही। जिसके चलते बरहज से फायर ब्रिगेड की दूसरी गाड़ी बुलानी पड़ी। फायर ब्रिगेड के काफी प्रयास और ग्रामीणों के अथक मेहनत से आग पर काबू पाया जा सका।

एकौना थाना क्षेत्र के रमपुरवां गांव के दक्षिण सरेह में गुरुवार को कम्बाइन से गेहूं की कटाई चल रही थी। उसी सरेह में भूसा बनाने वाली मशीन एक खेत में भूसा बना रही थी। दिन में करीब 11 बजे भूसा बनाने वाली मशीन से निकली चिंगारी से फसल में आग लग गई।

Advertisement

जब तक ग्रामीण आग पर काबू पाते तेज पछुआ हवाओं के चलते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। देखते ही देखते रमपुरवा की आग पचलड़ी, सुल्तानी और ईश्वरपुरा गांव के खेतों तक पहुंच गई। खड़ी फसल धूं-धूं कर जलने लगी।

सूचना मिलते ही एसडीएम संजीव कुमार उपाध्याय, तहसीलदार बंशराज राम, नायब तहसीलदार हिमांशु सिंह मौके पर पहुंचे। आग लगने के एक घण्टे बाद फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी पहुंची तब तक आग काबू के बाहर हो चुका था।

एसडीएम संजीव उपाध्याय ने मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को दी। जिस पर जिला अग्निशमन अधिकारी दूसरी गाड़ी के साथ मौके पर पहुंचे। करीब चार घंटे के प्रयास के बाद आग पर काबू पाया जा सका। तहसील प्रशासन की रिपोर्ट के अनुसार इस घटना में चार गावों की करीब पांच सौ एकड़ फसल जलकर राख हो गई है।

Advertisement

फसल जलता देख रो पड़े किसान

फसल आग लगने की खबर मिलते ही कई गांव के लोग मौके पर पहुंच गए। पचलड़ी गांव निवासी इन्द्रावती देवी, चिन्तवत देवी व ईश्वर अपनी आंखों के सामने खेत में खड़ी फसल को जलते देख फफक फफक कर रोने लगे।

आग की लपटों को फैलता देख गांव के लोग ट्रैक्टर लेकर खेत की ओर चल दिए और अंधाधूंत खेत में खड़ी गेहूं की फसल को बचाने के लिए खेत की जुताई शुरू कर दिए। जबकि कुछ किसान पंपसेट चालू कर आग पर काबू पाने का प्रयास करने लगे। जानकारी होते ही भाजपा नेता संगम धर द्विवेदी, मण्डल अध्यक्ष राम सन्तोष शुक्ल, राजीव गुप्ता आदि मौके पर पहुंचे पीड़ित किसानों को सांत्वना दिया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement