संदिग्ध परिस्थिति में झोपड़ी में लगी आग से वृद्ध की जलकर मौत, परिवार का गंभीर आरोप

0
58
Advertisement
Advertisement

महराजगंज। नौतनवा क्षेत्र के चकदह टोला बेलहिया में गुरुवार की रात एक झोपड़ी में रहस्यमय परिस्थिति में आग लग गई।

इस घटना में झोपड़ी के अंदर सो रहे 72 वर्षीय वृद्ध जोखन की जलने से मौत हो गई। सूचना पर डायल-112 व खोरिया पुलिस चौकी इंचार्ज इम्तियाज अली मौके पर पहुंचे।

इस घटना को लेकर मृतक जोखन के घरवालों ने अपने पट्टीदार के ही एक महिला पर आरोप लगाया है।

Advertisement

बुजुर्ग जोखन अकेले गाँव से बहार अपने ही जोपड़ी में रहता था। उसका परिवार गाँव वाले घर पर रहते हैं ।

उसका खाना पीना उसके लड़के लेकर आते थे, खाकर-पीकर झोपड़ी में सोता था।

गुरुवार की रात वह झोपड़ी में सोया था। इसी दौरान झोपड़ी में संदिग्ध परिस्थिति में आग पकड ली। देखते ही देखते झोपड़ी धूं-धूं कर जलने लगी।

Advertisement

जोखन झोपड़ी के अंदर आग से घिर गया। जलने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। झोपड़ी में आग देख लोगों ने शोर मचाया।

आग बुझाने के लिए ग्रामीण उमड़ पड़े। इसी दौरान किसी ने डायल-112 पर फोन कर घटना की सूचना दे दी। थोड़ी देर में पीआरवी की गाड़ी पहुंच गई।

घटना को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। मृतक जोखन के बड़े पुत्र राजेंद्र का कहना है की प्रतिदिन की ही भाँति मैं खाना देकर जैसे ही गाँव में पहुँचा तो मैंने देखा की मेरे पिता जी की झोपड़ी की तरफ से आग दिख रही है।

Advertisement

यह देख कर मैं घबरा गया। तभी एक लड़का दौड़ते हुए मेरे पास आया और उसने बताया कि आप के पिता जी की झोपड़ी में आग लग गई है और वो बहुत बुरी तरह जल रही है।

हम लोगों ने आग बुझाने की बहोत कोशिश की मगर आग से पिता जी को बचा नही पाये।

तहरीर देकर राजेन्द्र ने अपने ही पट्टीदार पर आरोप लगाते हुए कहा की आग की लपटों के उजाले से लालती पत्नी श्री राम, श्री राम पुत्र बाल किशुन, राहुल पुत्र श्री राम, व्यास मुनी पुत्र हरिराम को हम लोगों ने झोपड़ी के पीछे से भागते हुए देखा ।

Advertisement

सूचना मिलते ही ASP महराजगंज निवेश कटियार, क्षेत्राधिकारी नौतनवा अजय सिंह चौहान, थानाध्यक्ष नौतनवा राम चन्द्र राम, खोरिया चौकी इंचार्ज इम्तियाज अली मौके पर पहुंचे ।

इस सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी नौतनवा अजय सिंह चौहान का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। हम चाँच-पड़ताल कर रहे हैं । उचित कार्यवाही की जाएगी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement