लापरवाही: संभल सरकारी अस्पताल में शव को नोचते रहे कुत्ते, वीडियो वायरल

0
93
Advertisement
Advertisement

लखनऊ। संभल में लड़की के शव को कुत्ते के नोचने का वीडियो वायरल होने के बाद सीएमओ ने वार्ड ब्वाय और सफाई कर्मचारी को निलंबित कर दिया है।

ड्यूटी पर तैनात डाक्टर व फार्मेसिस्ट को कारण बताओ नोटिस जारी करके स्पष्टीकरण मांगा गया है।

मामले की जांच के लिए दो डाक्टरों की कमेटी गठित कर दी गई है।

Advertisement

बुधवार को असमोली थानाक्षेत्र के गांव शहबाजपुर कलां में हुए हादसे में अमरोहा जिले के डिडौली थानाक्षेत्र के गांव में रहने वाली एक लड़की की मौत हुई थी।

लड़की भाई पवन के साथ असमोली क्षेत्र के गांव शहबाजपुर कलां में पेट्रोल पंप से डीजल लेने के बाद बाइक से घर लौट रही थी।

पंप के सामने ही गन्ना लदे तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक को टक्कर मार दी थी। लड़की का शव जिला अस्पताल में स्ट्रेचर पर रखा था।

Advertisement

इसे लेकर वायरल हुए एक वीडियो में अस्पताल प्रशासन की लापरवाही भी सामने आई थी। स्ट्रेचर पर रखे शव तक कुत्ता पहुंच गया था।

मामला अधिकारियों तक पहुंचा तो सच्चाई जानने का प्रयास शुरू कर दिया गया।

इसी क्रम में गुरुवार शाम को सीएमओ डा.अमिता सिंह जिला अस्पताल पहुंचीं।

Advertisement

सीएमओ ने बताया कि जिला अस्पताल के सीएमएस की संस्तुति पर लापरवाही के मामले में वार्ड ब्वाय विपिन भटनागर और सफाई कर्मचारी प्रदीप सिरसवाल को निलंबित किया गया है।

जबकि ड्यूटी पर तैनात डाक्टर व फार्मेसिस्ट को कारण बताओ नोटिस दिया गया है। पूछा गया है कि ऐसी लापरवाही क्यों की गई?

दो डाक्टरों की जांच कमेटी गठित

सीएमओ ने कहा कि शव तक कुत्ते पहुंचने के मामले की सच्चाई जानने के लिए जांच कराई जाएगी। इसके लिए दो डाक्टरों की कमेटी गठित कर दी है।

Advertisement

जांच में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इससे पहले जिला अस्पताल के सीएमएस डा.सुशील कुमार ने इस मामले को लेकर जिम्मेदारी से बचने का प्रयास किया।

उनका कहना रहा कि परिजनों के इंकार करने पर शव उनके सुपुर्द कर दिया गया था। परिजनों ने शव कहां रखा और क्या घटना हुई, इसकी जानकारी उन्हें नहीं है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement