पंजाब में फिर से लॉकडाउन, वीकेंड पर पूरी तरह से बंद रहेगा पंजाब

0
54
Advertisement

चंडीगढ़। कोरोना महामारी के बाद 2 महीनें के लंबे लॉकडाउन के बाद में पूरा देश जहां इस समय अनलॉक की तरफ बढ़ रहा है तो वहीं पंजाब एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा है।

हालांकि पंजाब सरकार ने अभी वीकेंड और किसी भी छुट्टी वाले दिन संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया है जिसमें आवश्यक सेवाओं को छोड़कर बाकी सब कुछ बंद रहेगा। यानी शनिवार और रविवार को पंजाब में पूरी तरह लॉकडाउन रहेगा।

एक बार फिर से पंजाब के बॉर्डर को सील किया जाएगा तो वहीं पंजाब की राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में भी इंटर-स्टेट बस सर्विस बंद कर दी गई है।

Advertisement

फ्लाइट, ट्रेन से आने वाले यात्रियों को अब घर में 14 दिन तक क्वारनटीन रहना पड़ेगा। बीते दिनों में बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव के जो मामले आए हैं वह दरअसल ट्रैवल हिस्ट्री के हैं।बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कोरोना संकट से निपटने के तमाम कोशिशें कर रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कोरोना से निपटने के लिए कुछ सख्त फैसले लेने के संकेत भी दिए थे।जानकारी के मुताबिक अलग-अलग डिपार्टमेंट के अधिकारियों और कोरोना को लेकर बनाई गई मंत्रियों की समूह कमेटी के साथ वीडियो कांफ्रेंस के दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आने वाले दिनों में पंजाब में कोरोना के बढ़ रहे मामलों की आशंका के मद्देनजर सख्त फैसले लेने के लिए तमाम एक्सपर्ट्स से राय मांगी थी।इसमें विशेष यह है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह मानते हैं कि दिल्ली में लगातार जो मामले बढ़ रहे हैं उसका असर पंजाब में भी पड़ सकता है। क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी से रोजाना औसतन 500 से 800 वाहन पंजाब में आ रहे हैं।ऐसे में पंजाब सरकार ये विचार कर रही है कि दिल्ली और अन्य राज्यों से पंजाब में आ रहे लोगों के लिए कोविड टेस्ट अनिवार्य कर दिया जाए। हालांकि इसे लेकर अंतिम फैसला पंजाब पुलिस, हेल्थ विभाग और मेडिकल एक्सपर्ट्स की राय के बाद ही लिया जाएगा।मुख्यमंत्री ने पंजाब में कोरोना महामारी से बचने के लिए वीकेंड और पब्लिक हॉलिडे के दिनों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने और मूवमेंट पास के बिना लोगों के बाहर निकलने पर रोक लगाने के आदेश जारी किए हैं।इसके बाद पंजाब में छुट्टी और वीकेंड के दौरान सभी नागरिकों को पंजाब सरकार के COVA ऐप से ई-पास डाउनलोड करके ही मूवमेंट करनी होगी. जानकारी के मुताबिक इस दौरान सिर्फ मेडिकल स्टोर और जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही बाहर निकलने की इजाजत होगी।