चौकी से नदारद मिले कौआबाग चौकी इंचार्ज, वायरलेस पर किया सस्पेंड माफी मांगने पर फिर किया बहाल

498

गोरखपुर। एसएसपी गुरूवार की रात करीब 12 बजे शाहपुर, गोलघर सहित शहर के अन्य क्षेत्रों में भ्रमण व निरीक्षण पर निकले थे। इसी क्रम में वह शाहपुर के कौआबाग चौकी पर पहुंंचे। जहां उन्हें चौकी इंचार्ज राजेंद्र सिंह नदारद थे। जिसके बाद एसएसपी ने वायरलेस सेट पर से ही उन्हें बुलाया। इस दौरान एसएसपी 10 मिनट तक चौकी पर ही उनका इंतजार करते रहे लेकिन इचार्ज नहीं पहुंचे।

Advertisement

जिसके बाद एसएसपी वहां से निकल गए। निकलते ही उन्होंने वायरलेस सेट से उन्हें सस्पेंड करने का निर्देश जारी कर दिया। सेट पर मैसेज प्रसारित होते ही पुलिसकर्मियों में हडक़ंप मच गया। इसके बाद चौकी इंचार्ज ने एसएसपी से माफी मांगी और दुबारा ऐसा नहीं होने की बात कही। जिसपर एसएसपी ने उन्हें बहाल करते हुए एक मौका और दिया। साथ ही हिदायत दी की दुबारा ऐसा नहीं होगा और दस मिनट नहीं 7 मिनट ही आने के लिए मिलेगा।


दरअसल एसएसपी पहले भी जहां थे वहां रात में अक्सर भ्रमण व निरीक्षण पर निकलते थे। यहां आने के बाद गुरूवार की रात वह शहर क्षेत्र के भ्रमण व थानों तथा चौकियों के निरीक्षण पर निकले। इसी क्रम में वह पहले शाहपुर थाने पहुुंचे। वहां एक संतरी मौजूद था। एसएसपी ने उसकी रायफल लेकर चेक किया। इसके बाद वह पादरी बाजार चौकी पहुंचे जहां सब कुछ ठीक मिला। वहां से निकलने के बाद वह कौआबाग चौकी पर पहुंचे थे।

जहां इंचार्ज राजेंद्र सिंह नदारद थे। एसएसपी के बुलाने पर भी वह दस मिनट में नहीं पहुंच पाए। जिसके बाद सस्पेंड करने का मैसेज वायरलेस सेट पर प्रसारित किया। वहां से निकलने के बाद एसएसपी ने जटेपुर चौकी का भी निरीक्षण किया जहां सबकुछ ठीकठाक मिला। इस संबंध में एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि इंचार्ज नदारद मिले थे। वह दस मिनट पर भी बुलाने पर नहीं पहुुंच पाए। जिसके बाद सस्पेंड करने का निर्देश दिया गया था।

लेकिन उनके माफी मांगने पर एक मौका और दिया गया है। आगे दुबारा लापरवाही मिलने पर कड़ी कार्रवाई होगी। कहा कि उन्हें अक्सर रात में निकलने की आदत है। पुलिसवालों को भी यह आदत डालनी होगी और रात्रिगश्त में सडक़ों व ड्यूटी स्थल पर निकलना होगा।