होलिका दहन का महत्व व 12 राशियों के वार्षिक फल जाने :आचार्य ऋषि दीक्षित

0
115

गोरखपुर। हिंदू धर्म में होली के पर्व का बड़ा ही व्यापक महत्व है हिंदुओं के प्रमुख त्योहारो में से एक होली पौराणिक कथाओं के अनुसार होलिका दहन के समय जो पूजा होती है वह होलिका की होती है प्रहलाद की नहीं पौराणिक संदर्भ के अनुसार जैसे ही प्रह्लाद को जलाने के उद्देश्य से हृंडा कश्यप की बहन होलिका अपनी गोद में लेकर अग्नि में बैठी वैसे ही भगवान विष्णु ने प्रहलाद को बचा लिया इस प्रक्रिया को भगवान विष्णु के स्पर्श मात्र होने से होलिका की सभी पाप समाप्त हो गए और वह पूजनीय बन गई बुराई रूपी होलिका जल कर राख हो गई वास्तव में उसका रूपांतरण होता है होलिका को वरदान प्राप्त था कि अग्नि उसे जला नहीं सकती लेकिन भगवान विष्णु ने प्रहलाद की रक्षा के साथ होलिका की घृणा द्वेष से मुक्ति दिलाई इसलिए जलने के बाद होलिका की राख का विशेष महत्व है होलिका पूजन और दहन के बाद जब उसकी राख शीतल हो जाती है तो लोग शुभता के लिए उसे घरों में ले जाते हैं होलिका की राख को मस्तक पर तिलक लगाने से सभी दोष दूर होते है होलिका दहन और होली से जुड़ी अनेक पौराणिक कथाएं तथा मान्यताएं प्रचलित है होलिका और प्रहलाद के संदर्भ में शिव जी कामदेव राजा रघु से जुड़ी मान्यताएं भी हैं ऐसी मान्यता है कि होलिका दहन के दिन जो भी व्यक्ति होलिका की पूजन करता है उसे भगवान विष्णु का आशीर्वाद प्राप्त होता है ।

Advertisement

मेष मेष राशि वालों के लिए है या वर्ष सामान्य से विधायक रहेगा स्वास्थ्य उत्तम रहेगा पारिवारिक जनों का सामना करना पड़ेगा आर्थिक संपन्नता बनी रहेगी कारोबारी गतिविधियां अच्छे ढंग से संपन्न होंगे मानसिक उतार-चढ़ाव की स्थिति रहेगी प्रवासी जीवन व्यतीत होगा सट्टा शेयर बाजारों से दूर रहना चाहिए।


वृष वृष राशि वालों के लिए यह वर्ष सामान्य रहेगा और आर्थिक स्थिति में सुधार होगा इसे स्वीकार करने के अवसर मिलेंगे कुछ संघर्ष के बाद सफलता मिलेगी स्वास्थ्य संबंधी कुछ समस्याएं से सचेत रहने की आवश्यकता होगी विद्यार्थी वर्ग को अध्ययन में अधिक परिश्रम करने की आवश्यकता रहेगी नवीन संपत्ति खरीदने के लिए यह वर्ष का उत्तरार्ध शुभ रहेगा।

Advertisement


मिथुन राशि वालों के लिए यह वर्ष शनि की ढैया से आर्थिक कष्ट व पारिवारिक उलझनों को बढ़ाने वाला होगा अत्यधिक पूंजी निवेश से बचने की आवश्यकता है सोच समझकर वाणी का प्रयोग करना उचित होगा कठिन परिश्रम करना होगा माता-पिता को भी स्वास्थ्य संबंधित परेशानी हो सकती है गृहस्थ जीवन में सामान्य सहयोग बने रहेंगे अध्ययन अध्यापन में बाधा पहुंचेगी शत्रु पराजित होंगे प्रेम संबंध सामान्य रहेगा अनावश्यक धन व्यय होगा।


कर्क कर्क राशि वालों के लिए वर्ष शुभ रहेगा मित्रों के सहयोग से संपत्ति अर्जित करने की संभावनाएं बनेंगी रुके कार्य संपन्न होंगे भूमि वाहन मकान के क्रय विक्रय की स्थिति बनी रहेगी राजनैतिक संबंध मजबूत होंगे माता-पिता का स्वास्थ्य बाधा युक्त रहेगा परिवार में मांगलिक करते होंगे विद्यार्थियों के लिए यह वर्ष अच्छा रहेगा संतान पक्ष की समस्याएं कम रहेंगे उधर पीला था पाचन संबंधित दुर्बलता से कष्ट होगा किसी पर्यटक स्थल की यात्रा की संभावना बन सकती हैं

सिंह राशि सिंह राशि वालों की यह वर्ष शुभ रहेगा माता-पिता का स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा प्रेम संबंध में तालमेल बना रहेगा रुका हुआ धन प्राप्त होगा नौकरी वालों के लिए वर्ष लाभकारी रहेगा धार्मिक कार्य सफल होंगे संपत्ति खरीद बिक्री के लिए अच्छा समय है किसी निकट संबंधी को शारीरिक पीड़ा होगी वर्ष के पूर्वार्ध में वाहन से भी संभव है किसी महत्वपूर्ण कार्य का अवसर मिलेगा आर्थिक मामलों में लाभ होगा मनोरंजन के साधन के प्रति प्राप्ति होगी विद्यार्थियों के लिए बस अध्ययन की दृष्टि से लाभकारी होगा न्यायालय के कार्यों में सफलता मिलेगी

Advertisement


कन्या कन्या राशि वालों के लिए वर्षा शुभ रहेगा भाइयों की प्रगति होगी व्यापार में सामान्य लाभ होगा कहीं तो धन व्यय करना उचित नहीं होगा इस वर्ष भूमि खरीदने के योग बन रहे हैं माता-पिता का स्वास्थ्य बाद आयुक्त रहेगा नौकरी वालों के लिए यह वर्ष सामान्य रहेगा सामाजिक प्रतिष्ठा के प्रति तथा प्रभावशाली कार्य करने का अवसर मिलेगा साझेदारी में कार्य में विघ्न बांधा होना स्वभाविक है चौपायों के रोग होंगे पारिवारिक मतभेद में सुधार होगा धार्मिक कृत्य में अभिरुचि रहेगी संतान पक्ष की ओर से चिंता बनी रहेगी


तुला तुला राशि वालों के लिए इस वर्ष सनी के भैया का प्रभाव रहेगा कार्य धीमी गति से सिद्ध होंगे भाई बहनों की उन्नति के द्वार खुलेंगे बाल बच्चों को शारीरिक पीड़ा रहेगी आर्थिक कष्ट तथा पारिवारिक उलझनों का सामना करना पड़ सकता है हनुमान जी की आराधना दशा शनि यंत्र की पूजा करनी चाहिए माता पिता के साथ मतभेद हो सकता है भूमि भवन वाहन विक्रय के लिए बस अच्छा नहीं रहेगा संतान पक्ष की ओर से सामान्य सहयोग मिलेगा वैवाहिक जीवन सामान्य रहेगा विरोधियों से भिन्नता हो सकती है न्यायालय के कार्य में अस्थिरता रहेगी

वृश्चिक वृश्चिक राशि वालों के अवश्य अच्छा रहेगा व्यापार में लाभ तथा निर्माण कार्य में अवसर मिलेगा कार्य क्षेत्र में नई लाभकारी संभावनाएं बनेंगी आज के स्रोत में वृद्धि होगी परिवार में कोई धार्मिक मांगलिक कार्य हो सकते हैं पत्नी का स्वास्थ्य अनुकूल रहेगा संयमित जीवनशैली अपनाने का मौका मिलेगा वर्ष के पूर्वार्ध में अच्छा कार्य उत्तरार्ध अच्छा रहेगा कई प्रतिष्ठित व्यक्तियों के संपर्क बनेंगे सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी बौद्धिक कार्यों में सफलता मिलेगी

Advertisement

धनु धनु राशि वालों के लिए शनि की साढ़ेसाती के कारण यह वर्ष आर्थिक कठिनाइयों और मानसिक कष्ट वाला होगा उधर वह नेत्र विकार की परेशानी आ सकती है व्यर्थ के विवाद से बचना चाहिए भाई बहनों की उन्नति के योग हैं भूमि वाहन की खरीद बिक्री ना करें खाने पीने की वस्तुओं से परहेज करना चाहिए परिवार में रोग की अधिक तथा विरोधियों का आतंक बढ़ेगा व्यापार तथा कृषि से लाभ होगा जून के बाद आय के साधनों में वृद्धि होगी बने हुए कार्य बिगड़ सकते हैं वर्ष के उत्तरार्ध में वाहन से चोट चतुर्थ की संभावनाएं रहना चाहिए अनावश्यक भागदौड़ एवं अत्याधुनिक खर्चे से परेशानी बढ़ सकती है
मकर राशि वालों के लिए शनि की साढ़ेसाती के कारण मानसिक कष्ट व स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती है व्यापार में लाभ होगा परंतु नौकरी से अचानक स्थानांतरण की संभावनाएं बन सकती हैं समाजिक मान-सम्मान में वृद्धि होगी माता-पिता की ओर से सहयोग मिलेगा विद्यार्थियों को पढ़ाई के क्षेत्र में अत्यधिक मेहनत करनी पड़ेगी वैवाहिक जीवन में पत्नी के मध्य वैचारिक मतभेद रहेगा वर्ष के प्रारंभ में चोट से पेट की संभावनाएं रहेंगी रोग व शत्रु पर ध्यान दिया होगा परिवार में मांगलिक करते होंगे किसी धार्मिक यात्रा का अवसर मिलेगा
कुंभ कुंभ राशि वालों के लिए वर्ष शनि की साढ़ेसाती के कारण परेशानियों वाला होगा भौतिक सुख साधनों में अधिक खर्च होंगे आर्थिक कठिनाई परिवारिक चिंता तथा मित्रों से मतभेद उत्पन्न होगा यह पूर्वार्ध वर्ष का पूर्वार्ध चोट से पेट की संभावनाएं बनी रहेगी भाई बहनों की उन्नति होगी माता-पिता को भी स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां आ सकती हैं व्यापार में स्वल्प लाभ होगा किसी ने व्यापार की योजना बनेगी कोर्ट कचहरी के कार्य में व्यर्थ धन व्यय हो सकता है भूमि क्रय विक्रय सोच समझ कर करना चाहिए वैवाहिक जीवन में कटुता आएगी भौतिक सुख साधनों में अत्यधिक व्यय होग
मीन मीन राशि वालों के लिए अवश्य विधायक रहेगा विरोधियों का आतंक बढ़ेगा अध्ययन अध्यापन में बाधा पहुंचेगी परिवार में मांगलिक करते होंगे रुका हुआ धन प्राप्त हो सकता है विदेश यात्रा संभव है आर्थिक उन्नति के लिए प्रयास करने पर लाभ की स्थिति होगी मनोरंजन में धन व्यय होगा भाई बहनों को सौहार्द बना रहेगा नवीन संपत्ति के क्रय विक्रय के लिए अच्छा वर्ष है ऋण लेने की संभावनाएं रहेंगी विद्यार्थियों के लिए अध्ययन क्षेत्र में अच्छी संभावनाएं रहेंगी संतान पक्ष की उन्नति के द्वार खुलेंगे विरोधियों का पक्ष का दबाव कम रहेगा दांपत्य सुख में वृद्धि होगी नौकरी में उन्नति होगी व्यापारिक यात्रा सफल होगा

यह उपाय करने पर मिल सकती हैं सभी कार्य मे सफलता
मेष राशी वालों को आदित्य ह्रदय स्तोत्र का तीन पाठ कर या ऊँ घृणि आदित्य नमः का 5 वाला माला जप करके अग्नि का परिक्रमा करने के बाद हवन में मदार के लकड़ी से आहुति देने पर सभी पीड़ा से मुक्ति मिल सकती है
वृष राशि वालों के लिए गूलर का 3 पौधों का रोपण करें व गूलर के वृक्ष में दूध मधु मिश्रित अर्घ्य दें होम ह्रीं नमः का तीन माला जप करके गूलर के लकड़ी से 108 बार घी मिलाकर हवन करने से सभी अरिष्ट समाप्त हो जाएंगे
मिथुन मिथुन राशि वाले जामुन के पेड़ का रोपण करें व ॐश्रीं नमः स्वाहा का 11माला जप करके विधारा के लकड़ी से मधू मिलाकर 108बार आहुति देने से कार्य सिद्ध होगें
कर्क राशि वालों को पलाश के पेड़ का रोपण करें वह ओम श्रीं ह्रीं चण्डिकायैं नमः का 11माला जप करके पलाश के फूल से 108 घी मिलाकर हवन करें
सिंह सिंह राशि वाले कदम के 11 पेड़ लगाएं सफेद मदार की जड़ लाल कपड़े में धारण करें व तिल और घी से आहुति दें गुड़ मिलाकर सभी कार्य सिद्ध होंगे
कन्या राशि कन्या राशि वाले ॐ नमो नील कंठाय नमः का 7माला जप करें बैर के पेड़ लगाने से ग्रह पीड़ा से मुक्ति मिल सकती हैं
तुला राशि वाले ॐक्लीं कृष्णाय नमः का 11माला जप करें व गूलर के लकड़ी से आहुति दें महुआ वृक्ष का पौधा लगवायें किसी सरोवर के किनारे पर इससे रुके हुये कार्य सम्पन्न होगें
वृश्चिक ओम ह्रीं वटुक भैरवाय नमः का 7माला जप करके खैरा की लकड़ी से हवन करें नीम के वृक्ष का रोपण करने से सभी रोग से निवृत्ति मिल सकती हैं
धनु ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय का 3माला जप करें व खीर से हवन करें तथा पीपल का 5पेड़ लगाने सें सभी ग्रह बाधा से मुक्ति व कार्य बन सकते है
मकर राशी वाले ऊँ क्लीं नमः का पाच माला जप करके 108बार हवन करें शमी के लकड़ी से 108बार हवन करें व किसी काटेदार वृक्ष का रोपण करे जैसे बबूल ,बैर , शमी आदि विजय प्राप्त व कार्य सिद्धि होगें
कुम्भ ऊँ श्रीं क्लीं नमः का 11बार जप करके मधू,मिश्री, किसमिस मिलाकर108बार आहुति देने से सभी कार्य पूर्ति होगें
मीन ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय का 21माला जप करके पंचमेवा भी चीनी व पीपल के लकड़ी से हवन करने से सभी ग्रह से निवृत्ति मिलता है कोई 11 पीपल वृक्ष को लगाएं किसी नदी या सरोवर के किनारे
🚩विशेष अन्नपूर्णा धनधान्य प्राप्ति हेतु मंत्र
👉ऊँ ह्रीं क्लीं नमो भगवती माहेश्वरी अन्नपूर्णे स्वाहा क्लीं श्री ह्रीं ऊँ
इस सभी उपाय को होली के अवसर पर करके विशेष लाभ पाया जा सकता है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement