गोरखपुर में कोरोना होने लगा बेकाबू , एक दिन में 64 नए कोरोना संक्रमित

0
76

गोरखपुर। गोरखपुर में कोरोना एक बार फिर बेकाबू होता नजर आ रहा है। अगर यही स्थिति रही तो गोरखपुर को कड़े प्रतिबंधों के लिए तैयार रहना पड़ेगा। 1 हफ्ते पहले तक जहां जिले में इक्का दुक्का कोरोना संक्रमित मिलने थे वहाँ आज रिकार्ड 64 नए कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए हैं।

Advertisement

आपको बता दें की पंचायत चुनाव और होली का पर्व मनाने बड़ी संख्या में प्रवासी लोग गोरखपुर आए हुए हैं। ऐसे में बड़े शहरों से होते हुए संक्रमण गोरखपुर में भी तेजी से फैल सकता है।

आज पाए गए मरीजों में गोरखपुर शहर से 31 मरीज मिले हैं जबकि ग्रामीण क्षेत्र से 26 संक्रमित पाए गए हैं।

Advertisement

64 नए कोरोना संक्रमित मिलने के बाद अब तक जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 21832 तक पहुँच गई है। इसमें से अब तक 21174 मरीज ठीक हो चुके हैं। जबकि अब तक जिले कोरोना से 367 लोगों की मौत हो चुकी है।

वर्तमान में 291 कोरोना संक्रमित लोगों का होम आईसोलेशन अथवा अस्पताल में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।

आज पाए गए मरीजों की लिस्ट

Advertisement

कैंट 5

शाहपुर 5

कोतवाली 11

Advertisement

गोरखनाथ 8

राजघाट 2

भटहट 2

Advertisement

खोराबार 2

बेलघाट 1

चरगावा 8

Advertisement

सहजनवा 5

पिपराइच 6

बड़हलगंज 1

Advertisement

उरुवा 1

अन्य 7

जिलाधिकारी ने इस बात पर जोर दिया कि जिले में आए सभी प्रवासियों की कोविड जांच करवाई जाए और लोगों के बीच कोविड नियमों का पालन सख्ती से करवाया जाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधाकर पांडेय ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जिले में पंचायत चुनावों और होली के कारण करीब तीन लाख प्रवासी आए हुए हैं जिनके प्रति खास सतर्कता का दिशा-निर्देश मिला है।

Advertisement

उन्होंने बताया कि पहली अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक के उम्र के सभी लोगों को कोविड का टीका लगना है। बैठक में इस संबंध में भी विस्तृत दिशा-निर्देश मिला है जिनका अनुपालन सुनिश्चित करवाया जाएगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि बैठक में जिलाधिकारी से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार कांट्रैक्ट ट्रेसिंग बढ़ाई जाएगी। निगरानी समितियों की मदद से कोविड टेस्टिंग और सर्विलांस को बढ़ाया जाएगा। टीकाकरण कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा निजी अस्पतालों को जोड़ने का प्रयास होगा। फिलहाल 37 निजी अस्पताल कोविड टीकाकरण से जुड़े हुए हैं।

उन्होंने बताया कि जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज कुमार पांडेय की देखरेख में सोमवार, गुरुवार और शुक्रवार को फोकस्ड कोविड टीकाकरण अभियान चलेगा और इस दिन अतिरिक्त पीएचसी, सीएचसी, पीएचसी और जिला स्तरीय अस्पतालों पर टीकाकरण होगा।

Advertisement

इन दिवसों पर प्रतिदिन 16000 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य है। निजी अस्पतालों की प्रतिभागिता बढ़ाने के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) से भी बात की गयी है कि वह निजी अस्पतालों को प्रेरित करे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement