मुख्यमंत्री तक पहुंची भैंस व पाड़ी चोरी के मामले में कार्यवाही न करने की शिकायत

307

गोरखपुर। गगहा थानाक्षेत्र के रहने वाले रामनारायण निषाद पुत्र रामलाल निषाद और राजुकमार पासवान पुत्र राधेश्याम पासवान की तरफ से रामनारायण निषाद ने जनता दरबार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर भैंस व पाड़ी चोरी में कार्यवाही न करने की शिकायत की।

Advertisement

शिकायत में लोगों ने मांग की कि गगहा क्षेत्र में संगठित गोकशी गिरोह और भैंस चोरी के गिरोह पर कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री ने उचित कार्यवाही का भरोसा दिया है।

पीड़ितों ने शिकायत पत्र में कहा है कि प्रार्थी रामनारायण निषाद के घर से 24 मार्च की रात में मुर्राह नस्ल की भैंस चोरी हो गयी और प्रार्थी के पिता रामलाल निषाद ने चोरों को भोला पुत्र हामिद, नवनाथ सिंह पुत्र वीरभान सिंह, बबलू पुत्र अज्ञात व दो अन्य अज्ञात के रूप में पहचान लिया ।

112 नंबर पर तुरंत सूचना देने के साथ पुलिस को तहरीर देकर भी शिकायत की गयी । उसी रात प्रार्थी राजकुमार पासवान के घर से उनकी भैंस व पाड़ी भी इन्हीं लोगों ने पिक अप और स्कार्पियों के जरिये चुरा लिया जिसके संबंध में राजकुमार के पिता राधेश्याम पासवान ने भी पुलिस से शिकायत की ।

दोनों मामलों में जब पुलिस ने तहरीर पर कोई कार्यवाही नहीं की तो आईजीआरएस यूपी पर शिकायत क्रमांक 40018822009516, दिनांक 29 मार्च एवं शिकायत क्रमांक 40018822009680 दिनांक 30 मार्च 2022 के जरिये आवेदन दिया गया। पुलिस के ट्विटर एकाउंट और ईमेल पर भी शिकायत की गयी ।

शिकायत पत्र में यह भी बताया गया है कि उपरोक्त सभी शिकायतों के बाद भी कार्यवाही नहीं हुई तो प्रार्थीगण ने सात अप्रैल 2022 को पत्रकारवार्ता के जरिये इस मामले को उठाया जिस पर प्रार्थीगण को उसी रात थाना गगहा पर बुलाकर पुलिस ने नयी तहरीर ली और मुकदमा संख्या 91/2022, थाना गगहा पर दर्ज कर लिया ।

पुलिस की इस मामले में शुरू से भूमिका संदिग्ध व लापरवाही भरी रही है और अब मुकदमा दर्ज होने के बाद भी पुलिस कोई कार्यवाही नहीं कर रही है ।

नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार कर माल की बरामदगी नहीं की जा रही है। कार्यवाही करने के स्थान पर थाने के सिपाही केशरीनंदन द्वारा हम लोगों पर नामजद अभियुक्तों के पक्ष में दबाव बनाया जा रहा है ।