मक्खन मद्धेशिया हत्याकांड का खुलासा, वाइफ ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर कराई थी हत्या

0
146

महराजगंज जिले के कोल्हुई पुलिस ने बहुचर्चित मक्खन मद्धेशिया हत्याकाण्ड का खुलासा कर दिया है। पुलिस के खुलासे के अनुसार इस घटना मे पत्नी ही अपने पति का हत्यारिन साबित हुई।

Advertisement

पत्नी अपने प्रेमी के साथ मिल कर लोहे की राड से पति के सिर पर कई वार कर के मार डाले और मरने के बाद घटना स्थल पर ही लोहे के राड को फेंक कर घर चले आये थे।

कोल्हुई पुलिस के अनुसार मक्खन मद्धेशिया हत्याकांड में पत्नी ने ही कोल्हूई निवासी प्रेमी लालचंद मद्धेशिया के संग मिल कर हत्या की थी।

Advertisement

आपको बता दें कि विगत 21 फरवरी को जोगियाबारी डूडी नदी किनारे खून से लथपथ कोल्हुई थाना क्षेत्र के बडिहारी निवासी मक्खन मद्धेशिया का शव मिला था।

मृतक मक्खन मद्धेशिया पुत्र केदार निवासी बडिहारी थाना कोल्हुई जनपद महराजगंज की पत्नी कमलावती देवी का अबैध संबध लालचन्द गुप्ता पुत्र ठाकुर प्रसाद निवासी कोल्हुई से था।

लाकडाउन के पूर्व ही लालचन्द और कमलावती देवी ने कोर्ट मैरेज कराने का आवेदन किया था और हलफनामा में कमलावती देवी ने यह दाखिल किया था कि मेरे पति की मृत्यु हो चुकी है। मेरे कोई संतान नही है।

Advertisement

इस बात की जानकारी प्रेमी लालचन्द की पत्नी उर्मिला को हो गयी। उसने कोर्ट मैरेज के आवेदन को निकाल कर पढ़ी तो कमलावती ने आवेदन मे अपने पति मक्खन की मृत्यु होना दर्शायी थी।

उर्मिला ने उक्त आवेदन को निकालकर माननीय न्यायालय जेएम फरेन्दा के यहा एक वाद दायर कर दिया कि कमलावती के पति जिन्दा है। वह न्यायालय मे झूठ बोल रही है।

उर्मिला ने जो वाद दायर किया था उसमे गवाह उर्मिला ने अपनी बहू को बनाया। न्यायालय मे करीब 15 दिन पहले उर्मिला की बहू का बयान दर्ज हुआ तो उसमे बताया गया था कि मक्खन जिन्दा है।

Advertisement

माननीय न्यायालय से गवाही देकर जब उर्मिला की बहू घर वापस आई तो यह बात अपने ससुर लालचन्द को बताई की आप और कमलावती दोनो जेल जाओगे।

यह पूरी बात लालचन्द ने कमलावती को उसके घर जाकर बताया तो कमलावती और लालचन्द ने आपस मे मक्खन के हत्या करने की योजना बनाया वरना अगर इसको हम लोग नही मारेंगे तो जेल चले जायेंगे ।

न्यायालय मे अगली तारीख 03 मार्च को है। मक्खन प्रत्येक शनिवार को घर आता है और सोमवार को पुनः नेपाल चला जाता था।

Advertisement

दिनांक 13 फरवरी को मक्खन नेपाल जा रहा था तो कमलावती ने बहाने से कहा की उसे चन्नी में डॉक्टर को आँख दिखाना है।

जिस पर मक्खन ने 21 फरवरी को बताया नेपाल से लौटते वक्त हम चन्नी आएंगे तुम वहाँ आजाना। पति पत्नी दोनों चन्नी पहुँचे।

फिर वहाँ से वह डूडी नदी तट पर बहलाकर बगीचे में ले गयी। दोनों वहाँ मौज मस्ती में बात कर ही रहे थे कि पीछे से लालचंद गुप्ता ने लोहे के राड से मक्खन मद्धेशिया के सिर पर वार कर दिया। जिससे वह गिर कर तड़पने लगा।

Advertisement

फिर लालचंद और कमलावती ने कई वारकर उसकी जान ले लिए। इसके बाद लोहे के राड को उसके शव के पास फेंक कर वहाँ से घर चले आये।

इस सम्बन्ध में कोल्हुई पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि मृतक मक्खन की पत्नी कमलावती व उसके प्रेमी लालचंद गुप्ता को धारा 302 आईपीसी के तहत जेल भेज दिया गया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement