अलर्ट: गोरखपुर में पहली बार कम्युनिटी संक्रमण, बढ़ा खतरा

0
366

गोरखपुर में कोरोना मरीजों की संख्या अब तेज़ी से बढ़ रही है। आज यानी गुरुवार को एक साथ नौ लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें नौ माह की मासूम बच्ची और 20 साल की उसकी बुआ शामिल हैं। दोनों बड़हलगंज के डुमरी टोला के रहने वाले हैं।

Advertisement

छह लोग पिपराइच के उसका गांव के निवासी हैं। वहीं एक सहजनवां के हरपुर बुदहट का रहने वाला है। सीएमओ डॉ श्रीकांत तिवारी ने पुष्टि करते हुए बताया कि जिले में अब कोरोना मरीजों की संख्या 71 हो चुकी है।

पहली बार गोरखपुर में सम्पर्क में आये लोग संक्रमित

बृहस्पतिवार को जो मामले सामने आए, उनमें कोरोना मरीज के संपर्क में आने वाले हुए हैं। इनमें पिपराइच के उसका क्षेत्र में 24 मई को संक्रमित मिले उसके परिवार व संपर्क में आने वाले कुल छह लोग शामिल हैं। इनकी उम्र 20, 17, 36, 43, 20, 39 साल है।

Advertisement

उसके बाद युवक के परिवार और उसके संपर्क में आने वाले लोगों को उसी दिन गांव से लाकर तिलक मैरिज हाउस में क्वारंटीन किया गया था।

इसके अलावा बड़हलगंज के रामनगर डुमरी टोला निवासी जिस व्यक्ति की 24 मई को रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उसके परिवार के दो सदस्य पॉजिटिव मिले हैं।

इसमें उसकी 20 साल की बहन और दूसरी नौ माह की उसकी भतीजी है। इनको भी 24 मई को ही गांव से लाकर तिलक मैरिज हाउस में क्वारंटीन किया गया था। जबकि नौवां व्यक्ति सहजनवां के हरपुर बुदहट का रहने वाला है।

Advertisement

यह गांव पहले ही सील है। सीएमओ ने बताया कि जिन गांव के लोग संक्रमित मिले हैं। उनके गांव पहले से ही सील है। क्वारंटीन सेंटर को सैनिटाइज करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

जिन आठ लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। वह कोरोना मरीजों के संपर्क में आए थे। ऐसे में यह बात साफ हो गई है कि गांव में कम्युनिटी संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है। क्योंकि अब तक जो मरीज मिले हैं, वह मुंबई, दिल्ली, गुरुग्राम और अहमदाबाद से आए हैं।

जबकि बृहस्पतिवार को मिले मरीजों की हिस्ट्री अब तक विभाग को नहीं मिली है। विभाग अब यह पता लगाने की कोशिश में हैं कि अगर यह लोग बाहर से नहीं आए हैं, तो जिले में कम्युनिटी स्तर पर संक्रमण का खतरा बढ़ गया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement