झाड़-फूंक के नाम पर बंद कमरे में 2 दिन तक हैवानियत, खून से लथपथ मिली लड़की

0
121

बस्ती। आज के इस आधुनिक जमाने में भी लोग झाड़-फूंक पर विश्वास करते हैं और अपने लाखों की कमाई के साथ साथ अपना सब कुछ लुटा बैठते हैं।

Advertisement

बस्ती जिले के गौर क्षेत्र की एक किशोरी को झाड़-फूंक के नाम पर कमरे में बंद कर नशीला पदार्थ खिलाकर एक तांत्रिक ने दो दिन तक दुष्कर्म किया।

पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने दुष्कर्म सहित पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement

बुधवार को गौर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली पन्द्रह वर्षीय किशोरी ने पुलिस को तहरीर दी कि उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं रहती है।

इस कारण 22 मार्च को उसकी मां सेहरिया गांव के रहने वाले तांत्रिक सिपाही के पास ले गई। तांत्रिक ने कहा कि दो दिन झाड़-फूंक के बाद ठीक हो जाएगी और एक कमरे में बंद कर दिया। लगातार दो दिन तक नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा।

तीसरे दिन किशोरी खून से लथपथ बेहोशी की हालत में मिली तो उसकी मां घबरा उठी। उसने इसकी सूचना बभनान पुलिस चौकी को दी।

Advertisement

पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़िता की हालत नाजुक देखते हुए उसे थाने ले गई। वहां से सीएचसी गौर पहुंचाया।

सीओ हर्रैया शेषमणि उपाध्याय व प्रभारी थानाध्यक्ष गौर जेपी पाण्डेय ने मौका मुआयना किया। पीड़िता की तहरीर पर आरोपी तांत्रिक सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement