रामलीला:कलाकारों के नारद मोह मंचन से मंत्रमुग्ध हुए दर्शक

455

उरुवा बाजार:सिकरीगंज के ठाठी गाँव मे रामलीला आयोजन के प्रथम दिन कलाकारों द्वारा नारद मोह का मंचन किया गया।

Advertisement

नारद जी की तपस्या से देवलोक हिलने लगा और इंद्र देव भयभीत हो गए।उन्होंने कामदेव को नारद की तपस्या भंग करने के लिए भेजा लेकिन कोई असर नहीं पड़ा।इसको लेकर नारद को अहम पैदा हो गया।नारद ने भगवान शिव को पूरी जानकारी दी।नारद का अहम देखने के बाद भगवान विष्णु ने अपनी माया से एक राजमहल का निर्माण कराया।जहां विश्वमोहिनी नाम की लड़की की सुंदरता की चर्चा फैल गई।विश्वमोहिनी के स्वयंवर में उस मनमोहक रूप देखकर नारद मोहित हो गए।

कलाकारों की प्रस्तुति इतनी संजीदा थी कि श्रद्धालु मंत्रमुग्ध हो गए।भगवान शंकर की भूमिका अनूप , विष्णु की सूरज मिश्रा , ब्रह्मा की घनश्याम वर्मा, इंद्र की राजमन व नारद की भूमिका हरिवंश ने निभाई।
इस दौरान आयोजक अतुल चंद्र मिश्र, प्रेम प्रकाश उपाध्याय, अच्छेलाल कन्नौजिया, विष्णु गुप्ता, शैलेंद्र कुमार यादव, पवन उपाध्याय, पंकज यादव आदि मौजूद रहे।